भारत बनाम न्यूजीलैंड दूसरा टी20: दूसरा टी20 मैच भारत और न्यूजीलैंड के बीच कल यानि 19 नवंबर को रांची में खेला जाएगा. इस मैच को लेकर क्रिकेट प्रेमियों में जबरदस्त उत्साह है। शाम चार बजे जब दोनों टीमें रांची पहुंचीं तो खिलाड़ियों की एक झलक पाने के लिए बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से होटल तक सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ लगी रही. पुलिस दोनों टीमों को कड़ी सुरक्षा घेरे में कद्रू मोरे स्थित होटल रेडिसन ब्लू ले गई।

कोविड को देखते हुए 16 नवंबर से इस होटल और स्टेडियम में खिलाड़ियों के पवेलियन में बायो बबल बना हुआ है. होटल और पवेलियन स्टाफ को भी उसी तारीख से क्वारंटाइन किया गया है. किसी भी व्यक्ति को होटल के कमरे और लॉबी में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है।

गुरुवार शाम को होटल पहुंचने के तुरंत बाद न्यूजीलैंड टीम के मुख्य कोच समेत कुछ कर्मचारी जेएससीए स्टेडियम के लिए रवाना हो गए। वे पिच का जायजा लेंगे। टीम इंडिया या न्यूजीलैंड की टीम के अभ्यास सत्र में भाग लेने की उम्मीद नहीं है। संभव है कि शुक्रवार सुबह छोटे सत्र में दोनों टीमों के कुछ खिलाड़ी हिस्सा लें।

आपको बता दें कि करीब 2 साल बाद जेएससीए स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय मैच खेला जाएगा। इससे पहले 2019 में जेएससीए स्टेडियम में भारत-दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच खेला गया था। यहां टी20 मैच करीब 4 साल बाद हो रहा है। यहां आखिरी टी20 मैच भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 7 अक्टूबर 2017 को खेला गया था।

बता दें कि झारखंड राज्य क्रिकेट संघ ने स्टेडियम में पहुंचने वाले दर्शकों के लिए 15 नवंबर के बाद कोविड की दोनों खुराकों का प्रमाण पत्र या आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट दिनांक 15 नवंबर के बाद दिखाने की शर्त अनिवार्य रूप से लगा दी है. ये रिपोर्ट गेट पर मौजूद जांच टीम को दिखानी होगी। वहीं, गेट पर एंट्री के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। दर्शकों को उन्हें आवंटित सीट पर बैठना अनिवार्य होगा। स्टेडियम में किसी भी तरह के बैग लाने की इजाजत नहीं होगी।

स्टेडियम में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। मैच देखने आए खास मेहमानों की सुरक्षा के लिए सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। पुलिस ने स्टेडियम के चारों ओर सुरक्षा घेरा तैयार किया है। करीब पांच सौ पुलिसकर्मी स्टेडियम के आसपास सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालेंगे। रांची पुलिस को संदिग्धों से सख्ती से पूछताछ करने के सख्त निर्देश दिए गए हैं. सुरक्षा की जिम्मेदारी 500 जवानों के अलावा 3 एसपी, 6 डीएसपी, 30 इंस्पेक्टर और 70 इंस्पेक्टर संभालेंगे. पुलिस की टीम सीसीटीवी कैमरों के जरिए भीड़ पर भी नजर रखेगी। स्टेडियम में सिर्फ टिकट और पास धारक ही प्रवेश कर सकेंगे। इसके अलावा शहर की यातायात व्यवस्था के लिए 300 से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा।

Write A Comment