दूसरा टेस्ट मैच, भारत बनाम न्यूजीलैंड: भारत और न्यूजीलैंड (IND vs NZ) के बीच टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच शुक्रवार से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। इस मैच से पहले भारतीय टीम के लिए एक बुरी खबर है। सूत्रों की माने तो वानखेड़े स्टेडियम की पिच पर कुछ घास रह गई है, जिससे स्पिन गेंदबाजों को अपेक्षित टर्न नहीं मिल पाएगा। अगर ऐसा होता है तो टीम इंडिया के लिए यह मैच जीतना बेहद मुश्किल होगा। टीम के स्पिन गेंदबाजों ने पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन किया था और मैच बेहद रोमांचक मोड़ पर ड्रॉ हुआ था. आइए जानते हैं मुंबई की पिच कैसी हो सकती है और टीम इंडिया के लिए पहले मैच में स्पिन गेंदबाज कैसे गेम चेंजर रहे।

ऐसी हो सकती है वानखेड़े की पिच

एक अंग्रेजी अखबार ने आधिकारिक सूत्रों के हवाले से बताया कि वानखेड़े स्टेडियम की पिच पर घास की मोटी परत है, जिससे स्पिन गेंदबाजों के लिए इस मैदान पर टर्न लेना काफी मुश्किल हो सकता है. हालांकि राहत की बात यह है कि तेज गेंदबाज इस पिच पर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं और उन्हें पिच से काफी मदद मिलेगी।

ऐसा रहा पहले मैच में स्पिन गेंदबाजों का प्रदर्शन

कानपुर में खेले गए पहले मैच में टीम इंडिया के स्पिनरों ने पहली पारी में 10 में से 9 विकेट लिए। जबकि दूसरी पारी में भी स्पिन गेंदबाजों का दबदबा कायम रहा। दूसरी पारी में न्यूजीलैंड के लिए कुल 9 विकेट गिरे, जिसमें से आठ विकेट स्पिन गेंदबाजों ने लिए। कुल मिलाकर 19 विकेटों में से 17 विकेट स्पिन गेंदबाजों को मिले। पहले टेस्ट में भारतीय तेज गेंदबाज पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुए। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारतीय टीम स्पिन गेंदबाजों पर काफी निर्भर है।

यह भी पढ़ें: Ind vs NZ: मुंबई टेस्ट का पहला दिन हो सकता है किरकिरा, बारिश परेशान कर सकती है

ईयर एंडर: इस साल वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले इन 10 खिलाड़ियों की लिस्ट में एक भी भारतीय नहीं

Write A Comment