हार्दिक पांड्या का बयान: दुबई से मुंबई लौटे भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने मुंबई एयरपोर्ट पर सीमा शुल्क विभाग द्वारा करोड़ों रुपये की घड़ियां जब्त की हैं. मामला सोमवार सुबह का है। घड़ियों की कीमत 5 करोड़ रुपए बताई जा रही है। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि हार्दिक पांड्या के पास जब्त घड़ियों का बिल नहीं था. हालांकि इस पर हार्दिक पांड्या ने बड़ा बयान जारी किया है।

हार्दिक पांड्या का पूरा बयान
हार्दिक पांड्या ने ट्विटर पर जारी बयान में लिखा है कि ’15 नवंबर को दुबई से मुंबई एयरपोर्ट आने के बाद मैं खुद अपना सामान लेकर कस्टम काउंटर पर गया. मैंने उन्हें माल के बारे में सूचित किया और सीमा शुल्क का भुगतान भी किया। सोशल मीडिया पर इसको लेकर अफवाहें चल रही हैं। मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि दुबई से खरीदे गए सामान की जानकारी मैंने व्यक्तिगत रूप से दी थी और उन पर जो भी शुल्क लगाया जाएगा, वह देने के लिए तैयार हूं। सीमा शुल्क विभाग ने मुझसे खरीद के दस्तावेज मांगे थे, जो मैंने दे दिए हैं।

हार्दिक पांड्या ने लिखा, ‘घड़ी की कीमत करीब 1.5 करोड़ रुपये है, 5 करोड़ रुपये नहीं जैसा कि अफवाहों में कहा जा रहा है। मैं देश का कानून का पालन करने वाला व्यक्ति हूं और सभी सरकारी एजेंसियों का सम्मान करता हूं। मैं आश्वासन देता हूं कि मैं मुंबई कस्टम विभाग के साथ पूरा सहयोग करूंगा। हार्दिक पांड्या ने कहा, ‘मुझ पर कानून के उल्लंघन का जो भी आरोप लगाया जा रहा है, वह गलत है.’

विवादों के साथ हार्दिक का लंबा इतिहास रहा है
बता दें कि टी20 वर्ल्ड कप के पूरा होने के बाद अब भारतीय टीम स्वदेश लौट गई है। हार्दिक पांड्या टीम के साथ लौटे लेकिन लौटते ही वे इस विवाद में फंस गए। इससे पहले भी हार्दिक विवाद हो चुके हैं, विवादों से इनका पुराना नाता है। साल 2019 में वह महिलाओं के बारे में भद्दे कमेंट करने को लेकर विवादों में घिर गए थे।

इसे भी पढ़ें-

ICC टूर्नामेंट शेड्यूल: ICC ने 2031 तक टूर्नामेंट का शेड्यूल जारी किया, देखें कब और कहां होंगे ये बड़े इवेंट

टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हारी पाक टीम, ICC ने दिया अब जश्न मनाने का मौका!

Write A Comment