टीम इंडिया ने नामीबिया को हराया: टीम इंडिया ने जीत के साथ टी20 वर्ल्ड कप में अपना सफर खत्म कर लिया है। उन्होंने सोमवार को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए मैच में नामीबिया को 9 विकेट से हरा दिया। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर नामीबिया को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। भारतीय गेंदबाजों की कड़ी गेंदबाजी के सामने नामीबिया 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 132 रन ही बना सकी।

भारत ने 15.2 ओवर में 1 विकेट के नुकसान पर 133 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया। सलामी बल्लेबाज केएल राहुल 54 और सूर्यकुमार यादव 25 रन बनाकर नाबाद रहे। उपकप्तान रोहित शर्मा ने 56 रन की पारी खेली। इसके साथ ही विराट कोहली ने टी20 फॉर्मेट में अपनी कप्तानी का अंत जीत के साथ किया।

जडेजा और अश्विन की जोड़ी ने किया कमाल

इससे पहले जडेजा और रविचंद्रन अश्विन के जादू से भारत ने नामीबिया को 8 विकेट पर 132 रन के स्कोर पर रोक दिया. जडेजा ने 16 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि अश्विन ने 20 रन देकर तीन विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह ने भी 19 रन देकर 2 विकेट लिए। नामीबिया के लिए डेविड वाइसी (26) और सलामी बल्लेबाज स्टीफन बार्ड (21) केवल 20 रन का आंकड़ा पार करने में सफल रहे।

भारत की टी20 अंतरराष्ट्रीय टीम के कप्तान के रूप में अपने 50वें और अंतिम मैच में विराट कोहली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया, इसके बाद माइकल वैन लिंगेन (14) ने दूसरे ओवर में बुमराह को दो चौके मारे जबकि स्टीफन बार्ड (21) ने चौका लगाया। मोहम्मद शमी पर छक्का लगाकर टीम को सकारात्मक शुरुआत दी. हालांकि, लिंगन ने बुमराह की उछलती गेंद को हिट करने के प्रयास में शमी को मिड ऑफ पर आसान कैच थमा दिया।

अगले ओवर में जडेजा ने बिना खाता खोले ऋषभ पंत के हाथों क्रेग विलियम्स को स्टंप कर दिया। नामीबिया ने पावर प्ले में दो विकेट पर 34 रन बनाए। बार्ड ने जडेजा पर अपनी पहली बाउंड्री लगाई लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर ने उन्हें उसी ओवर में लेग बिफोर कर दिया। अश्विन ने जेन निकोल लॉफ्टी ईटन (05) को स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों कैच कराने के बाद कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (12) को पंत ने नामीबिया के हाथों 72 रन पर पांच विकेट पर लपका।

जडेजा की गेंद पर रोहित ने कवर पर जेजे स्मिट (09) का शानदार कैच लपका जबकि अश्विन ने जेन ग्रीन (00) को बोल्ड किया। नामीबिया के रनों का शतक 17वें ओवर में पूरा हुआ. डेविड विसे भी इसके बाद बुमराह का शिकार बने, जिसकी वजह से नामीबिया की टीम आखिरी ओवरों में तेजी से रन जुटाने में नाकाम रही. वाईसी ने 25 गेंदों की अपनी पारी में दो चौके लगाए. रूबेन ट्रम्पेलमैन (छह गेंदों में नाबाद 13) और जेन फ्रीलिंक (नाबाद 15) ने नामीबिया के स्कोर को 130 रन के पार पहुंचाया।

यह भी पढ़ें- T20 WC: नामीबिया के खिलाफ मैच में काली पट्टी बांधकर क्यों उतरी टीम इंडिया? यही कारण है

ICC टूर्नामेंटों में आगे नहीं बढ़ पा रही टीम इंडिया? नसीर हुसैन ने बताई वजह

Write A Comment