टी20 क्रिकेट: टी20 वर्ल्ड कप के दूसरे सेमीफाइनल में पाकिस्तान के ओपनर मोहम्मद रिजवान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 34वां रन लेते ही बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. वह टी20 क्रिकेट में एक साल में 1000 रन बनाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बन गए हैं। रिजवान ने इस साल 67 रन की अपनी पारी की बदौलत 1033 रन बनाए हैं। इस पारी की बदौलत वह अपने ओपनिंग पार्टनर बाबर आजम के बाद इस वर्ल्ड कप में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं।

उन्होंने वर्ल्ड कप के 6 मैचों में 70 की औसत से 281 रन बनाए हैं। 2015 में टी20 डेब्यू करने वाले रिजवान ने अब तक 49 मैचों की 38 पारियों में 1346 रन बनाए हैं। उन्होंने यह रन 51.76 की औसत से बनाया है। यह टी20 क्रिकेट में दुनिया का दूसरा सर्वश्रेष्ठ औसत है। टी20 क्रिकेट के शुरूआती 4 सालों में कुछ खास नहीं कर पाए रिजवान के बल्ले ने इस साल जमकर धमाल मचाया है.

रिजवान ने पहले 4 साल में 26 मैचों में सिर्फ 313 रन बनाए थे। वहीं, इस साल 23 मैचों में उनके बल्ले से 1033 रन निकले। बाबर आजम के साथ रिजवान की ओपनिंग पार्टनरशिप ने इस वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के मजबूत प्रदर्शन के पीछे बड़ी भूमिका निभाई है।

बाबर-रिजवान की जोड़ी ने दी हर मैच में अच्छी शुरुआत
दोनों खिलाड़ियों ने इस वर्ल्ड कप के हर मैच में अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दी. टीम इंडिया के खिलाफ इन दोनों ने नाबाद रहकर पाकिस्तान को जीत दिलाई थी. हर मैच की तरह पाकिस्तान के दोनों सलामी बल्लेबाजों ने सेमीफाइनल मैच में भी अच्छे रन जोड़े. शुरुआत में आजम और रिजवान ने विकेट पर पैर रखे जिससे गेंदबाजी को मदद मिली। दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 60 गेंदों में 71 रन की साझेदारी हुई. इसके बावजूद पाकिस्तान टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था.

ऑस्ट्रेलिया टूर पाकिस्तान: कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी पाकिस्तान दौरे पर नहीं जाना चाहते, कप्तान टिम पेन ने खोला राज

T20 World Cup: पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर बोले- भारतीय ड्रेसिंग रूम का माहौल अच्छा नहीं, विराट जल्द ही टी20 क्रिकेट से भी संन्यास ले लेंगे

Write A Comment