टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका दौरा: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने मंगलवार को कहा कि भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगा बशर्ते वहां कोविड-19 का नया प्रारूप मिलने के बाद स्थिति और खराब न हो। भारत को मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा और आखिरी टेस्ट खेलना है, जिसके बाद टीम 8 या 9 दिसंबर को चार्टर्ड प्लेन से जोहान्सबर्ग के लिए रवाना होगी।

धूमल ने विश्वास व्यक्त किया कि दक्षिण अफ्रीका द्वारा बनाए गए जैविक रूप से सुरक्षित वातावरण में खिलाड़ी सुरक्षित रहेंगे। पहला टेस्ट 17 दिसंबर से जोहान्सबर्ग में खेला जाएगा। धूमल ने पीटीआई-भाषा से कहा, ”हम उसके साथ खड़े हैं (जब वह खतरे से लड़ रहा है), केवल एक चीज यह है कि हम खिलाड़ियों की सुरक्षा से समझौता नहीं करेंगे। फिलहाल, हमारे पास है पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जोहान्सबर्ग के लिए एक चार्टर्ड उड़ान की योजना है और खिलाड़ी जैविक रूप से सुरक्षित वातावरण में होंगे।

‘श्रृंखला को कोई नुकसान नहीं’

खतरे से निपटने के लिए दक्षिण अफ्रीका के अंदर स्थानों के संभावित परिवर्तन पर धूमल ने कहा, “हम क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं। हम यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे कि श्रृंखला को कोई नुकसान न हो लेकिन अगर स्थिति बिगड़ती है और यह हमारे खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य से समझौता करता है, हम देखेंगे।”

उन्होंने कहा, “अंत में हम भारत सरकार की सलाह का पालन करेंगे।” हालांकि, भारत सरकार के संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार दक्षिण अफ्रीका को ‘जोखिम में’ देशों की सूची में शामिल किया गया है।

भारत ए टीम दक्षिण अफ्रीका में भी सीरीज खेलना जारी रखेगी। दक्षिण अफ्रीका के विदेश मंत्रालय ने भी अगले महीने श्रृंखला के लिए भारतीय सीनियर क्रिकेट टीम के वहां पहुंचने पर जैविक रूप से पूरी तरह से सुरक्षित वातावरण बनाने का वादा किया है। भारत दौरे पर तीन टेस्ट, तीन वनडे और चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगा।

यह भी पढ़ें- टीम इंडिया को 24 घंटे के अंदर दूसरा झटका, न्यूजीलैंड के बाद पाकिस्तान ने किया ‘नुकसान’

महिला क्रिकेट एंकर: मंदिरा बेदी से लेकर शिबानी दांडेकर तक, क्रिकेट एंकरिंग में इन हसीनाओं ने दिखाया अपना हुनर

Write A Comment