एशेज सीरीज पर जॉर्ज बेली: ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता जॉर्ज बेली ने कहा कि एशेज सीरीज के लिए जब टीम का चयन किया जाएगा तो मिचेल मार्श टी20 विश्व कप के फाइनल में होंगे। उनकी शानदार पारी को ज्यादा तरजीह नहीं मिलेगी क्योंकि दोनों पूरी तरह से अलग प्रारूप हैं। बता दें कि मार्श की 50 गेंदों में 77 रन की पारी के फाइनल मैच में रविवार को दुबई में न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हराकर पहली बार टी20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया।

मार्श ने छह टी20 विश्व कप मैचों में 62 के औसत से 185 रन बनाए, जिसके बाद पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज जैसे इयान हीली ने पारंपरिक प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड के खिलाफ आगामी चुनौती के लिए टीम में उनके चयन का समर्थन किया। हालांकि, जब बेली से फाइनल में मैन ऑफ द मैच बने 31 वर्षीय खिलाड़ी के चयन के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कमिटमेंट करने से इनकार कर दिया।

बेली ने सोमवार को ‘नेन ड्वेन वर्ल्ड’ से कहा कि ईमानदारी से कहूं तो उस प्रदर्शन को ज्यादा महत्व नहीं दिया जाएगा। टी20 और टेस्ट एक दूसरे से काफी अलग हैं। कई बार हम आंतरिक रूप से मजाक में कहते हैं कि ऐसा लगता है कि दोनों अलग-अलग खेल हैं।

उन्होंने आगे कहा, “दोनों में कोई समानता नहीं है, लेकिन आप खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करते देखना चाहते हैं क्योंकि इससे उनमें आत्मविश्वास आता है। मुझे लगता है कि यह जरूरी नहीं है कि एक प्रारूप की लय दूसरे में जारी रहे और मैं भी मुझे नहीं लगता कि टी20 वर्ल्ड कप में जीत से आपको एशेज में फायदा होगा।”

बता दें कि मार्श ने 32 टेस्ट खेले हैं, लेकिन वह टेस्ट टीम में अपनी जगह पक्की करने में नाकाम रहे हैं। इस फॉर्मेट में उनका बल्ले से औसत 25 और गेंदबाजी का औसत 39 के आसपास है.

Write A Comment